झील संरक्षण

सागर झील (लाखा बंजारा झील)

sagar_lake_dhn_3.jpg
आशा की किरण: हाल ही में केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय झील संरक्षण कार्यक्रम के अंतर्गत सागर झील को प्रदूषण मुक्त करने और इसके संरक्षण के लिए 22 करोड़ रुपए की योजना को मंजूरी दी है।

मप्र के मुख्‍यमंत्री शिवराजसिंह चौहान अप्रैल में इस योजना का शुभारंभ करने सागर आए थे। इस योजना को क्रियान्वित करने के लिए शहर के ढांचे में कई बुनियादी बदलाव करने की जरूरत है और शहरवासियों को इसके लिए काफी कुछ बलिदान करना पड़ेगा।

परेशानी: दूध डेयरियों को शहर से बाहर ले जाकर बसाना आवश्यक है क्योंकि झील में प्रदूषण फैलाने वाले दो बड़े कारणों में से एक भैंसें हैं। दूसरा कारण है शहर का सीवरेज सिस्टम जो सीधे झील में खुलता है। इसे बंद करने के लिए एक समानांतर सीवरेज सिस्टम बनाने की आवश्यकता है।

सागर झील इस शहर की पहचान मानी जाती है। लेकिन मौजूदा समय की सबसे कड़वी सच्‍चाई यह है कि लाखा बंजारा झील देश की दस सबसे प्रदूषित झीलों में से एक है। यह प्रॉजेक्‍ट इस झील का पुनर्जीवन दे सकता है। अब सागर को सुनिश्चित करना है कि इस प्रॉजेक्ट का भी वही हश्र ना हो, जो पूर्व में हो चुका है।


वापस लौटें

7 Comments

  1. सागर की इस सुन्दर वेबसाईट को देख कर ह्रदय प्रसन्न हो गया. आपका बहुत बहुत शुक्रिया

    • धन्‍यवाद भारत कुमार जी। कुछ ही दिन पहले सरखी जाना हुआ था। सागर की ताजा खबरों के लिए मुख्‍य वेबसाइट https://www.dailyhindinews.com पर अवश्‍य पधारें। आपका स्‍वागत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*